जानिए चाणक्य राजा क्यों नहीं बना!


चाणक्य अपनी चतुरता और बुद्धिमत्ता के कारण प्रसिद्ध है, वे बहुत ही बुद्धिमान थे और हर समस्या का समाधान रखते थे और बहुत ही सटीक नीतियों का इस्तेमाल किया करते थे जो आज भी इन नीतियों को बहुत से क्षेत्र में उपयोगी माना जाता है। पर यदि चाणक्य इतने ही बुद्धिमान और चतुर थे तो वे राजा क्यों नही बने यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है कि चाणक्य राजा क्यों नहीं बना?

चाणक्य राजा क्यों नहीं बना

चाणक्य मानते थे कि यदि व राजा बनते है तो उनमे लालच और कपट आने की सम्भावना है इसीलिए वे अपने जीवन में राजा बनना नही चाहते थे। उनका मुख्य उद्देश्य अपने पिता की हत्या का बदला लेना था उनके पिता की हत्या धनानंद के द्वारा की गयी थी। चाणक्य मानते थे कि चन्द्रगुप्त मौर्य चतुर और कुशल नेतृत्वकर्ता है इसलिए चाणक्य ने उन्हें राजा के रूप में चुना था। चाणक्य खुद को एक अच्चा मार्गदर्शक मानते थे ना की राजा वे केवल देश सेवा करना चाहते थे ।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment