दीपावली पर निबंध 200 शब्दों में


दिवाली का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है यह हिंदुओं का सबसे बड़ा त्योहार है। दिवाली पर भारत में एक अलग ही माहौल होता है बाजारों में भीड़ लगी रहती है। अधिकतर परीक्षा में दिवाली पर निबंध लिखने के लिए कहा जाता है इसीलिए हम आज आपके लिए लेकर आए हैं दीपावली पर निबंध 200 शब्दों में ( Eassy on Diwali )

प्रस्तावना

दिवाली (Dipawali festival) हिंदुओं का सबसे बड़ा त्यौहार है वैसे तो हिंदुओं के अनेक त्योहार होते हैं जेसे होली , दशहरा, रंग पंचमी, गुरु पूर्णिमा आदि पर दिवाली को बहुत अलग ही तरीके से और बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है दिवाली हर उम्र का व्यक्ति अपनी इच्छा के अनुसार अलग-अलग तरीकों से मनाता है महिलाएं खरीदी कर, बच्चे पटाखे जलाकर युवा भी पटाखे जलाकर और अपने दोस्तों से मिलकर नये मैं कपड़े पहन कर दिवाली का त्यौहार अक्टूबर और नवंबर के आसपास आता है। दिवाली 5 दिन का त्योहार है, जिसमें पहले दिन धनतेरस दूसरे दिन रूप चौदस और तीसरे दिन दिवाली चौथी गोवर्धन पूजा वह पांचवें दिन भाई दूज मनाई जाती है।

दिवाली क्यों मनाई जाती है

भगवान राम जब रावण का वध कर अयोध्या लौटे थे तब वहां के रहवासियों ने पूरे शहर को सजाकर दीप जलाकर उनका स्वागत किया था उसी दिन से दिवाली मनाई जाती है।

रामायण मैं बहुत ही विस्तृत रूप से राम भगवान के बारे में बताया है कि किस प्रकार जब राम १४ वर्ष का वनवास काट रहे थे तब रावण ने भगवान राम की पत्नी सीता का हरण कर लिया था और फिर राम भगवान वानर सेना के साथ रावण से युद्ध जीतकर माता सीता को लंका से सुरक्षित लाए थे, फिर अयोध्या में एक त्योहार की तरफ भगवान के आगमन को बनाया गया था तभी से कार्तिक मास की अमावस्या को दीपावली का त्यौहार मनाया जाता है।

दीपावली कैसे मनाई जाती है

दीपावली के समय सभी अपने घर को साफ करते हैं नए कपड़े खरीदते हैं अपने घरों के बाहर दीपक लगाते हैं दीपावली 5 दिन का त्यौहार होता है इन पांचों दिनों में भारत बहुत ही सुंदर लगता है क्योंकि हर जगह उजाला रंगीन लाइट, दीपक जल रहे होते हैं। दीपावली के दिन माता लक्ष्मी, कुबेर देव की पूजा की जाती है और धन प्राप्ति की मनोकामना की जाती है। इस दिन पटाखे फोड़ कर उत्साह के साथ इस त्योहार को मनाते हैं दिवाली के दिन पकवान बनते हैं जिन्हें हम अपने परिचितों के साथ साझा करते हैं।

उपसंहार

दिवाली के दिन लगभग सभी बहुत खुश होते है, इस त्यौहार को प्रकाश का त्यौहार कहा जाता है इस दिन अमावस होती है पर दीपक और लाइट से पुरे देश में रौशनी हो जाती है । दीपावली के बच्चे फुलझड़ी, चकरी, अनार अनेक प्रकार के रंगीन फटके भी फोड़ते है जो काफी सुंदर होते है। दिवाली पर बच्चो का ध्यान रखने की आवश्यकता होती है क्योकि इस दिन बहुत अधिक मात्र में बम फटाको का उपयोग होता है । हिन्दू धर्म में दीपावली के त्यौहार का इतना ज्यादा महत्व है की विदेशो में रह रहे हिन्दू धर्म के लोग इसे वहा भी बड़ी धूम धाम से मानने है।

दीपावली पर निबंध 200 शब्दों में पढने के बाद इसे आप यद् कर एक्साम में अच्छे से लिख सकते हैं और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते है ।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment