जल से बर्फ बनने पर आयतन बढ़ जाता है क्यों?


अधिकतर परीक्षाओ में आयतन से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते है उसी प्रकार एक सवाल है जल से बर्फ बनने पर आयतन बढ़ जाता है क्यों? तो आज हम इस पोस्ट में हम जानेंगे कि पानी से बर्फ बनने पर आयतन क्यों बड़ जाता है? साथ ही हम आयतन की परिभाषा और उसके  S.I. मात्रक के बारे में भी बताएँगे।

आयतन किसे कहते है?

आयतन किसी भी वस्तु या पदार्थ द्वारा घिरे हुए स्थान की लम्बाई, चौड़ाई एवं ऊँचाई में दर्शाई जाती है। आम भाषा में कहे तो वस्तु के द्वारा घेरी गयी जगह उसका आयतन कहलाता है आयतन कभी भी ऋणात्मक नही होता है। आयतन का S.I. मात्रक मीटर³ है। अब आते है अपने मुख्य प्रश्न पर की पानी से बर्फ बनने पर आयतन क्यों बड़ जाता है?

जल से बर्फ बनने पर आयतन बढ़ जाता है क्यों?

जल को यदि गर्म किया जाता है तो उसका घनत्व बढ़ने लगता है उसी प्रकार यदि उसको ठंडा किया जाए और उसका बर्फ में परिवर्तन कर दिया जाए तो उसका घनत्व घट जाता है और घनत्व के घटने के साथ ही आयतन बढ़ जाता है। बर्फ पानी की तुलना में निम्न घनत्व वाली होती है। और कम घनत्व के कारण ही बर्फ पानी पर तैरती है।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment