लेंस कितने प्रकार के होते हैं?


इस आर्टिकल में आप जानने वाले है कि लेंस किसे कहते है तथा लेंस कितने प्रकार के होते हैं?

लेंस किसे कहते हैं?

लेंस ज्यामिती रूप की दो सतहों से घिरा हुआ पारदर्शक माध्यम है जो प्रकाश के अपवर्तन के सिद्धान्त पर आधरित है, जिनसे दूरबीन, सुक्ष्दर्शी तथा चश्मे आदि बनते हैं। यह पारदर्शी पदार्ध है जो गोलीय तथा समतल सतह से निर्मित होता है।

लेंस कितने प्रकार के होते हैं?

लेंस के प्रकार

  • उत्तल
  • अवतल

उत्तल

वे लेंस हैं जिनका परावर्तक तल गोलीय हो उत्तल लेंस के अंतर्गत आते हैं। उत्तल लेंस में दो प्रकार के प्रतिबिंब निर्मित होते है। उत्तल लेंस जिसका तल बाहर की तरफ उभरा हुआ होता है। उत्तल लेंस का प्रतिबिम्ब लेंस के पीछे ध्रुव व फोकस के बीच की औरनिर्मित होता है और साथ ही प्रतिबिम्ब वस्तु से छोटा तथा आभासी होता है। इनका उपयोग वाहनों के साइड मिरर में किया जाता है।

उत्तल दर्पण (convex mirror)
उत्तल

अवतल

अवतल लेंस का परावर्तक तल अन्दर की तरफ दबा हुआ निर्मित होता है। किसी वस्तु को अवतल लेंस के सामने तथा उसके ध्रुव और मुख्य फोकस के बीच रखा जाए तो उसका सीधा बड़ा प्रतिबिंब बनता है। इसका निर्माण खोखले गोले के किसी भाग को काटकर उसके बाहरी पृष्ठ पर कलई कर किया जाता है। दाढ़ी बनाने में जिस लेंस का उपयोग होता है वह अवतल लेंस होता है।

अवतल दर्पण
अवतल

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment