भारत का संविधान कितने पेज का है?


किसी देश द्वारा बनाए गये नियम जिनके द्वारा देश का संचालन होता है उसे देश का संविधान कहा जाता है। हमारे देश का संविधान किसी भी गणतांत्रिक देश की तुलना में सबसे बड़ा संविधान है। 26 नवम्बर 1949 को संविधान लिखना प्रारम्भ कर किया गया था तथा 26 जनवरी 1950 को यह संविधान लागू कर दिया गया था। इसे तेयार होने में 2 वर्ष, 11 माह, 18 दिन का समय लगा था। यह संविधान 395 अनुच्छेद, तथा 12 अनुसूचियाँ का हैं और ये 25 भागों में बटा हुआ है। हमारा यह संविधान बाबासाहेब डॉ. भीम राव अंबेडकर द्वारा निर्मित किया गया है। उस समय इसे निर्मित करने में 1 करोड़ रुपये का खर्च आया था। भारतीय संविधान लिखने वाली सभा के कुल सदस्यों की संख्या 299 थी जिसके अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र प्रसाद थे। क्या आप जानते है कि भारत का संविधान कितने पेज का है?

भारत का संविधान कितने पेज का है?

भारत का संविधान 251 पेज का है। हमारे देश का संविधान एक लिखित संविधान है जिसे प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने अपने हाथो से लिखा था।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment