पूर्णांक संख्या किसे कहते हैं?


गणित एक बहुत ही जटिल विषय है पर यह आसान लगता है यदि उसे अच्छे से पढा एवं समझा जाए।गणित से जुड़े हुए संख्याओ से जुड़े बहुत से प्रश्न विद्यार्थियों को भ्रमित कर सकते है।आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे की पूर्णांक संख्या किसे कहते हैं, इसके प्रकार एवं गुण के बारे में जानने वाले है।

पूर्णांक संख्या किसे कहते हैं?

पूर्णांक उसे कहते है जिसमे सभी पूर्ण और ऋणात्मक संख्याओं का समूह उपस्थित होता है। यदि पूर्ण संख्या के साथ ऋणात्मक संख्याओं को मिला लिया जाये तो प्राप्त समूह को पूर्णांक संख्या कहते है। पूर्णांक संख्या को इंग्लिश में Integer Number कहा जाता है।
जैसे की – 6,7,0,-2,-1,35,-20 सभी पूर्णांक संख्याए है

पूर्णांक संख्या के प्रकार

मुख्य रूप से पूर्णांक संख्याएँ तीन तरह की होती हैं।

  • धनात्मक संख्याएँ
  • ऋणात्मक संख्याएँ
  • उदासीन पूर्णांक

धनात्मक पूर्णांक

एक से लेकर अनंत तक की सभी धनात्मक संख्याएँ धनात्मक पूर्णांक कहलाती हैं। जिस संख्या में आगे धनात्मक या ऋणात्मक किसी प्रकार का चिन्ह नहीं लगा हो वह
संख्याएँ धनात्मक पूर्णांक कहलाती हैं।

जैसे :- 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9

ऋणात्मक पूर्णांक

वे संख्या जो शून्य से कम होती है एवं जिनके आगे ऋणात्मक चिन्ह लगा हो एवं जो संख्याएँ शून्य से छोटी हो ऋणात्मक पूर्णांक कहलाती हैं।

जैसे :- -1, -2, -3, -4, -5, -6, -7, -8

शून्य

जो पूर्णांक न धनात्मक पूर्णांक हो और न ही ऋणात्मक हो उदासीन पूर्णांक कहलाता है। यह गुणशून्य में पाया जाता है।

पूर्णांकों के जोड़, घटाव, गुणा एवं भाग के नियम


दो पूर्णांकों के योग के नियम


(-) + (-) = (+) दो ऋणात्मक संख्याओ का योग धनात्मक संख्या \होता है।
(+) + (+) = (+) दो धनात्मक संख्याओ का योग धनात्मक संख्या होता है।
(-) + (+) = (-) एक ऋणात्मक संख्या और एक धनात्मक संख्या का योग ऋणात्मक होता है।
(+) + (-) = (-) एक धनात्मक संख्या और एक ऋणात्मक संख्या का योग ऋणात्मक होता है।

दो पूर्णांकों को घटाने के नियम

(-) – (-) = (-) दोनों ऋणात्मक संख्याओ का घटाव ऋणात्मक संख्या होता है।
(+) – (+) = (-) दोनों धनात्मक संख्याओ का घटाव धनात्मक संख्या होता है
(-) – (+) = (+) एक ऋणात्मक संख्या और एक धनात्मक संख्या का घटाव धनात्मक होता है।
(+) – (-) = (+) एक धनात्मक संख्या और एक ऋणात्मक संख्या का घटाव धनात्मक होता है।

दो पूर्णांकों के गुणनफल का नियम

(-) × (-) = (+) दोनों ऋणात्मक संख्याओ का गुणनफल धनात्मक संख्या होता है।
(+) × (+) = (+) दोनों धनात्मक संख्याओ का गुणनफल धनात्मक संख्या होता है।
(-) × (+) = (-) एक ऋणात्मक संख्या और एक धनात्मक संख्या का गुणनफल ऋणात्मक होता है।
(+) × (-) = (-) एक धनात्मक संख्या और एक ऋणात्मक संख्या का गुणनफल ऋणात्मक होता है।

दो पूर्णांकों के विभाजन के नियम

(-) ÷ (-) = (+) दोनों ऋणात्मक संख्याओ का विभाजन धनात्मक संख्या होता है।
(+) ÷ (+) = (+) दोनों धनात्मक संख्याओ का विभाजन धनात्मक संख्या होता है।
(-) ÷ (+) = (-) एक ऋणात्मक संख्या और एक धनात्मक संख्या का विभाजन ऋणात्मक होता है।
(+) ÷ (-) = (-) एक धनात्मक संख्या और एक ऋणात्मक संख्या का विभाजन ऋणात्मक होता है।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment