40+ Pakshiyon Ke Naam Sanskrit Mein – पक्षियों के नाम संस्कृत में!


धरती पर पक्षियों की बहुत सी नस्ले पाई जाती है जिन मेसे बहुत सी खुबसुरत नस्ले भी होती है जो हमे काफी पसंद आती है । आम तोर पर लोगो को पक्षियों को पालना बहुत से लोगो को पसंद है जिसमे तोता सबसे ज्यादा पाला जाता है । बहुत सी जगहों पर बाज़, गिद्द आदि पक्षी भी पाले जाते है । पक्षियों को प्लेन की प्रथा काफी पुराणी है लोग आदि काल से ही पक्षियों को पालते आये है। हमारे आस-पास रहने वाले पक्षियों के नाम हिंदी और English में तो पता होते पर Pakshiyon ke naam sanskrit mein- पक्षियों के नाम संस्कृत में क्या है यह बहुत ही कम लोग जानते है। तो आइये जानते हैं, कि हमारे आस-पास रहने वाले Pakshiyon ke naam sanskrit mein- पक्षियों के नाम संस्कृत में क्या है-

  • तोता – शुकः, कीरः
  • पतंगा – शलभः
  • राज हंस – राजः हंसः
  • फाख्ता – कपोतः
  • राम चिरैया – मीनरंक
  • हंसी – वरटा
  • हुदहुद – पुत्रप्रिय
  • बतख – वर्तिका, वर्तकः, कादम्‍बः
  • पक्षी – खगः
  • चमगादड़ – जतुका
  • तीतर, चकोर – तित्तिरि, चकोर
  • भौरा – भ्रमरः
  • मधुमक्खी – सरघा
  • मुर्गा – कुक्कुटः
  • सारस – सारसः
  • जलमुर्गी – जलकुक्‍कुटीकोयल – कोकिलः, पिकः
  • कौवा – काकः
  • चील – श्येनः
  • बगुला – वकः
  • मोर – मयूरः
  • मुर्गी – कुक्कुटी
  • गौरेया (चिड़िया) – चटकः
  • खञ्जन – खञ्जनः
  • क्रौंच – क्रौंचः
  • बया – बया
  • कबूतर – कपोतः
  • बाज़ – श्येनः
  • खंजन – खंजनः
  • मैना – सरिकाः
  • शुतरमुर्ग – ऊष्ट्रपक्षी
  • गरुण – गरुडः
  • बटेर – वर्तकः
  • कठफोडवा – शतच्छद, दार्वाघाटः
  • नीलकंठ – नीलकण्‍ठः‚ चाषः
  • बुलबुल – कलापी
  • टिटिहिरी – टिट्टिभिः
  • पपीहा, कपक – उपकः, श्येनः
  • हंस – हंसः, मरालः
  • गीद्ध – गृधः
  • उल्लु – उलूकः
  • चकता, चकवा – भारद्वाजकी, चक्रवाक
  • दर्विदा, खजाक – चमचा, दाबिल
  • मक्खी – मधुपः
  • सारिका – कलहप्रिया

उम्मीद है, आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी, यदि इस सूची में कोई नाम छुट गया हो तो कमेंट बॉक्स में लिख कर हमें जरुर बताइए। हम आपको अवश्य ही जानकारी उपलब्ध कराएँगे।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment