Bharat Ki Sabse Unchi Choti Kaun Si Hai ? भारत की सबसे ऊंची चोटी कौन सी है?


भारत देश काफी विशाल है जो विविधता से भरा हुआ एक देश हैं जो प्राकृतिक सौन्दर्य से घिरा हुआ है। भारत में हर तरह का मौसम आपको मिल जाता है साथ ही यहाँ अनेक धर्म संस्कृति भाषाएँ मौजूद है। यहां बड़ी बड़ी नदियाँ, झरने, रेगिस्तान, पहाड़ है जो देखने में काफी सुंदर लगते है जिन्हे देखने लोग दूर दूर से आते है। भारत देश की यही खासियत है की यहां हर तरह की चीज मौजूद है। भारत में घूमने के लिए इतनी सारी जगहे है की उन्हें बात पाना मुश्किल है। अनेको मंदिर, किले और प्राचीन धरोहर तो भारत में प्रसिद्ध है ही यहां की प्राकृतिक चीजे जैसे यहां के ऊंचे पहाड़ जो उत्तर पूर्व में उपस्थित है यहां घूमने आने वालो की संख्या दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है क्योकि भारत के बहुत से प्रसिद्ध मंदिर पहाड़ो की वादियों में उपस्थित है तो यह एक धार्मिक पर्यटन भी होते है। जब भी हम ऐसी पहाड़ो वाली जगह पर जाते है तो एक प्रश्न किसी के भी दिमाग में आ सकता है की भारत की सबसे ऊंची चोटी कौन सी है ? ( Bharat Ki Sabse Unchi Choti Kaun Si Hai ) और ये कहा स्तिथ है ? तो आइये आज हम जानेगे की भारत की भारत की सबसे ऊंची चोटी कौन सी है और उससे जुडी हुई बहुत से जानकारियॉ।

Bharat Ki Sabse Unchi Choti Kaun Si Hai ? भारत की सबसे ऊंची चोटी कौन सी है?

भारत की सबसे ऊंची चोटी कंचनजंघा है। जिसकी उचाई 8,586 मी॰ है। कंचनजंगा पर्वत का आकार एक विशालकाय सलीब ( तीन कोनों वाला ) के समान है। कंचनजंगा नेपाल और भारत (सिक्किम) की सीमा में स्थित है। कंचनजंघा पहाड़ी से कई लोगो की धार्मिक आस्थाऐ जुडी हुई है।

कंचनजंघा नाम की उत्पत्ति

कंचनजंघा का नाम तिब्बती मूल के चार शब्दों से मिल कर बना है जो है कांग-छेन-दजों-ंगा या यांग-छेन-दजो-ंगा । सिक्किम में इसका अर्थ विशाल हिम की पाँच निधियाँ होता है ।

कंचनजंगा से जुडी कुछ जानकारी

कंचनजंगा दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची पर्वत छोटी है। 1852 से पहले इसे ही विश्व की सबसे ऊंची छोटी समझा जाता है। कंचनजंगा सिक्किम व नेपाल की सीमा को छूने वाले भारतीय प्रदेश में हिमालय पर्वत श्रेणी का एक हिस्सा है। 1929 और 1931 में एक बाबेरियाई अभियान दल ने चढ़ाई का प्रयास किया था किन्तु वे असफल रहे । एक बार ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 20 हज़ार डॉलर दे कर कंचनजंगा पर चढ़ाई की थी पर वह के लोगो ये लगाता था की ऐसा करना उनके भगवान का निरादर है। इस घटना से बौद्ध समाज के लोगों को बहुत ठेस पहुंची थी और उन्होंने कंचनजंगा पर इस तरह चढ़ने को लेकर आपत्ती जताई थी। कंचनजंगा का अर्थ है “बर्फ के पांच खजाने” होता है । यहां पांच खजाने का अर्थ पांच चोटियों से है जिन्हे क्रमशः चोटी सोना, चांदी, जवाहरात, अनाज, एवं पवित्र पुस्तकों का दिव्य भंडार माना जाता है।

कंचनजंगा राष्‍ट्रीय उद्यान

कंचनजंगा राष्‍ट्रीय उद्यान भारत के सिक्किम में स्तिथ है। यह एक एक राष्ट्रीय उद्यान और एक बायोस्फीयर रिज़र्व है। कंचनजंगा राष्‍ट्रीय उद्यान का क्षेत्रफल 1784 वर्ग की. है। यह इतना बड़ा है की ये सिक्किम के कुल क्षेत्रफल का २५.१४% है। यहां ख़ास कर कस्तूरी मृग, हिम तेंदुए काकड़ हिमालयी काला भालू, तिब्बती एंटीलोप, जंगली गधा, , निवास करते है। भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय उद्यानो मेसे एक और विश्व में काफी प्रसिद्ध राष्ट्रीय उद्यान है कंचनजंगा राष्‍ट्रीय उद्यान। कंचनजंगा राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना वर्ष 1977 में की गई थी। कंचनजंगा राष्ट्रीय उद्यान में लगभग 550 पक्षियों की प्रजातियां पाई जाती हैं जिनमेंसे खास कर हिमालयी कबूतर, तिब्बती स्नोकॉक , एशियाई पन्ना कोयल , बाज, तोता, आदि है।

विश्व के 10 सबसे ऊंचे पर्वतों की सूची

  • माउंट एवरेस्ट विश्व का सबसे ऊंचा पर्वत है जिसकी उचाई 8,848.८६ मीटर है। ये नेपाल और चीन में स्तिथ है।
  • K2 दुनिया का दूसरा सबसे ऊंचा पहाड़ है जो चीन और पाकिस्तान में स्तिथ ह जिसकी लम्बाई8,611 मीटर है।
  • विश्व की तीसरी सबसे ऊंची चोटी कंचनजंगा है जिसकी कुल लम्बाई 8,586 मीटर है और जो भारत और नेपाल में स्तिथ है।
  • दुनिया की चौथी सबसे ऊंची चोटी ल्होत्से है जो 8,516 मीटर लम्बी है और यह नेपाल और चीन में स्तिथ है।
  • नेपाल और चीन में स्तिथ मकालु पर्वत विश्व का पांचवा सबसे ऊंचा पर्वत है जिसकी लम्बाई 8,485 मीटर है।
  • चो ओयू विश्व की छठी सबसे ऊंची पहाड़ी है यह भी नेपाल और चीन में ही स्तिथ है। इसकी उचाई 8,188 मीटर है।
  • सातवीं विश्व की सबसे ऊंची चोटी का नाम धौलागिरी है जो 8,167 मीटर ऊंची है जो नेपाल में स्तिथ है ।
  • मानस्लु दुनिया की आठवीं सबसे उसी पहाड़ी है जिसकी लम्बाई 8,१६३ मीटर है यह भी नेपाल में ही स्तिथ है।
  • पाकिस्तान में स्तिथ नंगा पर्वत दुनिया का नौवा सबसे लम्बा पर्वत है जिसकी कुल लम्बाई 8,१२६ है।
  • अन्नपूर्णा पर्वत जोकि नेपाल में स्तिथ है इसकी लम्बाई 8,091 मीटर है। यह विश्व का दसवा सबसे ऊंचा पर्वत है।

निष्कर्ष

हमारे देश भारत में बहुत सी चोटिया है उन्ही मेसे एक सबसे ऊँची चोटी है जिसके बारें में हमने आज इस पोस्ट में जान लिया है। इस चोटी से बहुत जी बाते और तथ्य आज हमे जानने को मिले है।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment