दर्पण किसे कहते हैं? दर्पण कितने प्रकार के होते हैं?


आज का यह आर्टिकल दर्पण पर आधारित है इस आर्टिकल में हम जानने वाले है कि दर्पण किसे कहते हैं? और साथ ही हम जानेगे की दर्पण कितने प्रकार के होते हैं? यह प्रश्न अधिकांश भौतिक शास्त्र की परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न है।

दर्पण किसे कहते हैं?

दर्पण प्रकाश के परावर्तन के सिद्धान्त पर काम करने वाली वो वस्तु है जो छवि को दर्शाती है। दर्पण छवि की दिशा को एक समान लेकिन विपरीत कोण में पलट देते हैं जिससे उस पर प्रकाश चमकने लगता है।

दर्पण के प्रकार

दर्पण के तीन प्रकार होते हैं जो निम्नानुसार है-

  • समतल दर्पण (plain mirror)
  • उत्तल दर्पण (convex mirror)
  • अवतल दर्पण (concave mirror)

समतल दर्पण (plain mirror)

काँच की समतल प्लेट पर उसके एक तरफ पोलिश कर दी जाए तो वह समतल दर्पण कहलाता है। समतल पर किसी भी वस्तु का प्रतिबिम्ब आसानी से बन जाता है। वस्तु इस दर्पण से जितनी दूर स्थित होती है उसका बिम्ब उतनी ही दुरी पर पीछे कि और बनता है। समतल दर्पण से बनने वाले बिंब आभासी होते हैं, क्योंकि इसमें परावर्तित किरणें किसी एक बिंदु पर नहीं मिलती है वे बिंब से अपसृत होती हुई दिखाई देती है। इसी कारण ये किरणें वास्बिंतविक बिंब का निर्माण नहीं करती है।

समतल दर्पण (plane mirror)
समतल दर्पण (plain mirror)

उत्तल दर्पण (convex mirror)

वे दर्पण हैं जिनका परावर्तक तल गोलीय होता है गोलीय दर्पण (spherical mirror) कहलाते हैं। वाहनों के साइड मिरर में उत्तल लेंस का प्रयोग किया जाता है। उत्तल दर्पण में दो प्रकार के प्रतिबिंब बनते हैं आभासी (काल्पनिक) और हासित प्रतिबिंब। आसान भाषा में कहे तो जिसका तल बाहर की तरफ उभरा हुआ होता है वह उत्तल दर्पण कहलाता है। इस दर्पण का प्रतिबिम्ब दर्पण के पीछे ध्रुव व फोकस के बीच की और बनता है और साथ ही प्रतिबिम्ब वस्तु से छोटा आभासी व सीधा बनता है।

उत्तल दर्पण (convex mirror)
उत्तल दर्पण (convex mirror)

अवतल दर्पण (concave mirror)

अवतल दर्पण का परावर्तक तल अन्दर की तरफ दबा हुआ होता है अवतल दर्पण में खोखले गोले के किसी भाग को काटकर उसके बाहरी पृष्ठ पर कलई कर दी जाती है और इसका निर्माण किया जाता है। दाढ़ी बनाने में जिस दर्पण का उपयोग होता है वह अवतल दर्पण होता है,किसी वस्तु को अवतल दर्पण के सामने तथा उसके ध्रुव और मुख्य फोकस के बीच रखा जाए तो उसका सीधा बड़ा प्रतिबिंब बनता है।

अवतल दर्पण
अवतल दर्पण (concave mirror)

आशा करता हु कि आप अच्छे से जान गये होंगे की दर्पण किसे कहते हैं? दर्पण कितने प्रकार के होते हैं?

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –


0Shares

Leave a Comment