किसान दिवस कब मनाया जाता है व क्या है इसका इतिहास?


365 दिन में प्रत्येक दिन कुछ न कुछ स्पेशल होता ही है। हम हर दिन को सेलिब्रेट कर सकते हैं। साल भर में केवल त्योहारों के लिए ही नहीं बल्कि अलग-अलग विशेष लोगों, रूचि, खेल-कूद अथवा समुदाय को भी कोई न कोई दिन डेडिकेटेड होता ही है। वैसे ही एक दिन ऐसा भी है जो किसानों को डेडिकेट किया गया है। किसान हमारे समाज का ऐसा अंग है जिसके बिना इस संसार की कल्पना करना भी असंभव है। उन्हीं का उगाया हुआ अन्न खाकर मनुष्य जीवित रहता है। आज के इस लेख में आप जानेंगे कि किसान दिवस कब मनाया जाता है – Kisan Divas Kab Manaya Jata Hai? क्या है इसका इतिहास।

किसान दिवस कब मनाया जाता है?

Famers Day in India: हमारे देश में किसान दिवस अथवा राष्ट्रीय किसान दिवस हर वर्ष 23 दिसंबर को मनाया जाता है। यह दिन भारत के पांचवें प्रधानमंत्री श्री चौधरी चरण सिंह का सम्मान करते हुए उनकी जयंती पर मनाया जाता है।

किसान दिवस का इतिहास

चौधरी चरण सिंह 28 जुलाई, 1979 से 14 जनवरी, 1980 तक किसान नेता रहे। हालांकि उनका किसान नेता के रूप में कार्यकाल बहुत ही छोटा था लेकिन उन्होंने किसानों के लिए कई कल्याणकारी योजनाए शुरू की और उनकी समस्याओं पर किताबें लिखी। किताबों में विभिन्न समाधानों व देश के किसानों का चित्रण किया गया। उन्होंने देश के किसानों का जीवन बेहतर बनाने हेतु यह प्रयास किये। इसीलिए भारत सरकार द्वारा 2001 में चरण सिंह की जयंती को किसान दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया गया।

चौधरी चरण सिंह ने प्रसिद्ध नारे – “जय जवान जय किसान” का अनुसरण किया, जो भारत के दूसरे प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री द्वारा किसानों को दिया गया था।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment