Prakriti Ka Sabse Prabal Bal Kaun Sa Hai ? प्रकृति का सबसे प्रबल बल कौन सा है ?


विज्ञान के पास हर सवाल का उत्तर तो नहीं होता है पर वह चीजों को आसान करने में हमारी मदद करता है। आधुनिक युग में इतने सारे अविष्कार हो चुके है और हम उन के आदि भी हो चुके है। विज्ञान एक ऐसा वरदान है जो हमारे जीवन को सरल बनाने में बहुत योगदान रखता है। वैसे ही विज्ञान को कुछ भागो में बाट दिया गया है पर आज हम केवल भौतिक विज्ञान के संबंध में ही बात करेंगे। जैसे बल ( Force ) भी भौतिक विज्ञान के अंदर आता है तो आज हम जानेगे की प्रकृति का सबसे प्रबल बल कौन सा है ? Prakriti Ka Sabse Prabal Bal Kaun Sa Hai ?

बल की परिभाषा क्या है?

बल यानिकि वह खिंचाव या धक्का है जो किसी वस्तु को विराम या गति की अवस्था में बदलने की कोशिश करता है। बल वह भौतिक राशि है जो किसी वस्तु पर लगकर उसकी अवस्था में बदलाव लाती है या लाने की कोशिश करती है। बल किसी भी वस्तु की चाल में परिवर्तन ला सकता है या उस वस्तु की गति की दिशा में परिवर्तन कर सकता है। बल वस्तु की आकृति बदल सकता है। बल की SI मात्रक न्यूटन (N) है।

प्रकृति का सबसे प्रबल बल कौन सा है ? Prakriti Ka Sabse Prabal Bal Kaun Sa Hai ?

प्रकृति का सबसे प्रबल बल प्रबल नाभिकीय बल है। परमाणु के नाभिक में स्थित प्रोटॉनों तथा न्यूट्रॉनों के बीच लगने वाला बल नाभिकीय कहलाता है। नाभिकीय बल दो प्रकार के होते है प्रबल नाभिकीय बल और दुर्बल नाभिकीय बल प्रबल। प्रबल नाभिकीय बल चुंबकीय बल से 100 गुना ज्यादा ताकतवर होता है। सबसे कमजोर बल गुरुत्वआकर्षण बल होता है। दुर्बल नाभिकीय बल गुरुत्वआकर्षण बल से 10 गुना तक ज्यादा पॉवरफुल होता है |

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment