सूर्य लाल क्यों दिखाई देता है?


प्रकृति में कई ऐसी घटनाएँ होती है जो हमे सोचने पर मजबूर कर देती है, हम चारो और से पर्यावरण से घिरे हुए है और पर्यावरण हमे ऐसा अनुकूल वातावरण प्रदान करता है जिससे की हम स्वस्थ और जीवित रह सकें पर कई बार ऐसी स्थिति भी आ जाती है की हमे पर्यावरण के प्रकोप को झेलना पढ़ता है। पुरे सौरमंडल में केवल पृथ्वी ही ऐसा गृह है जहा जीवन सम्भव है क्योकि यहा प्राणदायिनी वायु ओक्सीजन मोजूद है तथा यह गृह सूर्य से अनुकूल दुरी पर स्थित है। आपने देखा होगा की सूर्य जब उगता है और जब ढलता तो उसका रंग लाल दिखाई देता है क्या आप जानते हैं कि सूर्य लाल क्यों दिखाई देता है? अगर नही तो इस लेख में आपको इसका उत्तर मिल जाएगा।

सूर्य लाल क्यों दिखाई देता है?

जब सूर्य उदय और अस्त होता है तब लाल दिखाई देता है इसका मुख्य कारण है कि सूर्योदय एवं सूर्यास्त के समय सूरज की किरणें पृथ्वी पर मोजूद वायुमंडल में अधिक दूरी तय करती है जिस कारण सूरज से आने वाली किरणों का प्रकीर्णन हो जाता है जिस वजह से लाल रंग का प्रकीर्णन घट जाता है जिसके फलस्वरूप सूर्य लाल रंग का दिखता है। लंबी तरंग दैर्ध्य वाली रोशनी पीले और लाल रंग की रौशनी होती है जिस कारण यह लाल रंग दिखाई देता है।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment