भाबर क्या है? और भाबर की क्या विशेषताएं है?


आज का प्रश्न है कि भाबर क्या है? और भाभर की क्या विशेषताएं है? यह प्रश्न सामाजिक विज्ञान से सम्बन्धित है जो अधिकतर परीक्षाओ में पूछा जाता आ रहा है। छात्र एवं छात्राओं को इस प्रश्न का उत्तर अवश्य पता होना चाहिए तो आइये जानते है भाबर क्या है? और भाभर की क्या विशेषताएं है?

भाबर क्या है?

प्राक्रतिक घटनाएँ इंसानों की कल्पना से भी परे है, उसी प्रकार भाबर भी एक ऐसी ही एक रोमांचक प्राक्रतिक घटना है जो पहाड़ी क्षेत्र में घटित होती है। भारत के उत्तर पूर्वी पहाड़ी क्षेत्रो में शिवालिक पर्वतमाला में नदियों द्वारा बहा कर लाये गये पत्थर, बालू और अवसाद के जमावड़े को भाबर कहा जाता है। यह एक पट्टीनुमा 8 से 10 किलोमीटर के क्षेत्र फेली हुई एक पट्टी के समान होता है जो खेती के लिए बिलकुल भी उपयुक्त नही है यहा केवल बड़े बड़े पेड़ पाये जाते हैं।

भाबर की विशेषताएं

  • भाबर वह पथरीला क्षेत्र है जो भाबर हिमालय और गंगा नदी के मैदान के बीच पाए जाते हैं।
  • भाबर के मुख्य उदाहरण भारत के उत्तराखंड के नैनी ताल और अन्य जलीय क्षेत्र हैं।
  • भाबर क्षेत्र में किसी प्रकार से नदियां का ठहराव नहीं देखा गया है।
  • इन पत्तियों की ओसतन चोड़ाई 8 से 10 किलोमीटर होती है।
  • भाबर का निर्माण कंकड़ों और पत्थरों के जमा होने से होता है। 

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment