चिया सीड्स को हिंदी में क्या कहते हैं? व इसके फायदे और नुकसान क्या हैं?


यदि आप भी एक जागरूक व्यक्ति हैं जो अपने सेहत का ध्यान रखते हैं तो आपने चिया सीड का नाम जरूर ही सुना होगा। इसके कई फायदे हैं और आप आसानी से इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। यह प्रोटीन, फाइबर और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर है एवं शरीर से रोगों को दूर रखने के अलावा मोटापा कम करने में भी यह सहायक है। तो चलिए आज हम चिया बीज के बारे में जानेंगे कि चिया सीड्स को हिंदी में क्या कहते हैं (Chia Seeds Name in Hindi) और इसके फायदे और नुकसान क्या हैं?

क्या होते हैं चिया सीड्स?

चिया सीड्स अथवा चिया बीज काले तिल के आकार के होते हैं व इनका स्वाद कुछ खास नहीं होता। यह चिया नामक फूल के पौधे से प्राप्त किया जाता है। यानि की ये चिया फूल का बीज है। इसका अधिकतर उपयोग वेट लॉस ड्रिंक्स में किया जाता है। आपने भी इसे किसी स्मूदी या सलाद में खाया होगा या फिर फालूदा अगर आपने कभी पिया है तो फालूदा में जो छोटे छोटे काले बीज होते हैं न, वो यही हैं। विश्व में इसकी सर्वाधिक खेती मैक्सिको में की जाती है।

चिया सीड्स को हिंदी में क्या कहते हैं?

Chia seeds ko hindi mein kya kahate hain: ये सवाल मैंने काफी लोगों से सुना है और कई लोगों को इसका हिंदी नाम नहीं पता है। वैसे तो मुझे नहीं पता कि पुरे भारत में इसे किस नाम से जाना जाता है परन्तु हाँ हमारे यहां मध्यप्रदेश के मालवा क्षेत्र में चिया बीज को तुरमुरि के बीज कहा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम साल्विया हिस्पैलिका है।

चिया सीड के फायदे

Chia Seeds Benefits in Hindi: चिया सीड के कई फायदे हैं। यह ओमेगा 3, प्रोटीन, फायबर, कैल्शियम एवं अन्य पोषक तत्वों से भरा हुआ है। इसके फायदे अग्रलिखित हैं।

वजन कम करने में सहायक

इसका सबसे प्रमुख फायदा यह है कि यह वजन कम करने में सहायक होता है। इसमें काफी मात्रा में प्रोटीन व फायबर पाया जाता है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करता है।

हड्डियों को बनाये मजबूत

चिया सीड्स में कैल्शियम, फास्फोरस व मैग्नीशियम पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार साबित होते हैं। यह हड्डियों के स्वास्थ और डेंसिटी को सुधारता है।

एंटीऑक्सीडेंट का है बढ़िया स्त्रोत

चिया सीड का सेवन आपके शरीर को कैंसर जैसी क्रोनिक बिमारियों से लड़ने में मदद करता है और साथ ही प्रीमैच्योर एजिंग से बचाता है। यह क्लोरोजेनिक एसिड, कैफीक एसिड, मिरिसेटिन, केरसेटिन और कैम्पफेरोल जैसे एंटीऑक्सीडेंट का बढ़िया स्रोत है।

ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर

यह एक ऐसा शाकाहारी खाद्य पदार्थ है जिसमे ओमेगा 3 पाया जाता है जो डिप्रेशन, एंग्जाइटी से लड़ने में मदद करता है साथ ही ब्रेन हेल्थ, आखों के स्वास्थ्य को बढ़ाता है और आपकी नींद कम आने की समस्या को भी दूर कर सकता है।

कब्ज से दिलाए राहत

पानी के संपर्क में आते ही यह बीज जैल के रूप में परिवर्तित हो जाते हैं और इनका सेवन कर आप कब्ज़ से छुटकारा पा सकते हैं।

28 ग्राम चिया सीड्स की नुट्रिशन वैल्यू

131 कैलोरीस (kcal)
8.4 ग्राम फैट
13.07 ग्राम कार्बोहायड्रेट
11.2 ग्राम फाइबर
5.6 ग्राम प्रोटीन
0 ग्राम शुगर

साथ ही, इनमें जिंक, विटामिन B3, विटामिन C, पोटैशियम, विटामिन B1 (थियामिन) और विटामिन B2 की भी अच्छी मात्रा होती है।

चिया सीड के नुकसान

हर चीज़ के दो पहलु होते हैं। वैसे ही चिया बीज के फायदे तो हैं ही साथ ही इसके कुछ नुकसान भी हैं जिन्हें निम्न बिंदुओं से समझा जा सकता है।

  • चिया बीज का बहुत अधिक सेवन आपके पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचा सकता है इससे एलर्जी, दस्‍त, सांस लेने में समस्‍या आदि हो सकती हैं।
  • यदि आपकी कोई सर्जरी हुई है और खून को पतला लेने वाली कोई दवाई अगर आप ले रहे हैं तो पहले डॉक्टर की सलाह लें उसके बाद ही इसका सेवन करें।
  • गलत तरीके से इसका सेवन भी काफी नुकसानदेह हो सकता है।

कैसे करें डाइट में शामिल?

chia seeds in diet

वैसे तो चिया सीड्स को दिन के किसी भी समय खाया जा सकता है लेकिन जब आप इसे नाश्ते के रूप में लेंगे तो यह और भी गुणकारी होगा। यह आपको एनर्जी से भर देगा। इसे आप वर्कआउट के बाद वाले नाश्ते में भी शामिल कर सकते हैं। चिया सीड्स को आप निम्न तरीकों से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

योगर्ट के साथ

यदि आप रोजाना योगर्ट खाना पसंद करते हैं तो योगर्ट में आप चिया बीज डालकर इसका सेवन कर सकते हैं। इसे आप साबुत अवस्था में मिला सकते हैं या चाहें तो पीसकर भी डाल सकते हैं।

सीरियल (Cereal) के साथ

यदि आप नाश्ते के तौर पर दूध में सीरियल मिलाकर उसका सेवन करते हैं तो सीरियल के साथ आप चिया बीजों को भी मिला सकते हैं और उसका सेवन कर सकते हैं।

स्मूदी के साथ

इसे आप अपनी स्मूदी में भी शामिल कर सकते हैं। यह भी एक बेहतर विकल्प है चिया सीड्स को ग्रहण करने का।

FAQs

चिया सीड कैसे होता है?

चिया सीड दिखने में काले तिल की तरह होता है। यह चिया नामक पौधे से प्राप्त होता है। यह पौधा एक फूल का पौधा है।

चिया सीड कब खाने चाहिए?

वैसे चिया सीड्स का सेवन करने का कोई ख़ास समय नहीं है इसे दिन में कभी भी खा सकते हैं पर हाँ सुबह नाश्ते के साथ इसे खाने के लाभ अधिक होते हैं।

Disclaimer : यह लेख इंटरनेट पर मौजूद कई मेडिकल वेबसाइट्स पर मौजूद जानकारी के आधार पर लिखा गया है। इसमें शामिल प्रत्येक तथ्य व जानकारी केवल आपकी जागरूकता और जानकारी बढ़ाने हेतु प्रेषित किये गए हैं। इस विषय में अधिक जानकारी हेतु कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

18Shares

Leave a Comment