पुष्प में नर जनन अंग कौन सा होता है?


पौधों में भी जनन कोशिकाएं होती हैं। पौधों द्वारा युग्मकों का प्रयोग कर नए पौधे को जन्म देने की क्रिया को ‘लैंगिक प्रजनन’ कहा जाता है। इनमे भी नर और मादा जनन अंग होते हैं। पौधों में जनन अंग फलों और फूलों के अंदर पाए जाते हैं। इन लैंगिक प्रजनन द्वारा प्रजलित बीजों को ‘आवृत्तबीजी’ (Angiosperms) या ‘पुष्पीय पौधे’ कहा जाता है। अगर नर और मादा अंगों की बात की जाए तो यह ज्यादातर पौधों के पुष्पों में पाए जाते हैं। यह पुष्प नर और मादा युग्मक निषेचन को सुनिश्चित करते हैं। आइये आपको बताते हैं कि पुष्प में नर जनन अंग कौन सा होता है?

पुष्प में नर जनन अंग कौन सा होता है?

पुष्प का नर अंग जनन ‘पुंकेसर’ (Stamen) और मादा अंग ‘अंडप/कार्पेल’ (Carpel) होता है। पुष्प के अलग-अलग भाग होते हैं जैसे रेसप्टकल (Receptacle), बाह्यदल (Sepals), पुंकेसर (Stamen), अंडप/कार्पेल (Carpel) आदि। कई पुष्प एक लिंगी भी होते हैं क्योंकि उनमे ‘पुंकेसर’ और ‘अंडप’ में से केवल एक अंग होता है।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment