युपीआई आईडी (UPI ID) क्या होती है? UPI full form in hindi


08 नवम्बर 2016 को भारत सरकार द्वारा नोट बंदी करने के बाद काला धन रखने वाले लोगों के साथ अन्य लोगों को भी लेन-देन में समस्या होने लगी। तब सरकार द्वारा कैशलेस भुगतान करने के लिए प्रेरित किया गया। कैशलेस भुगतान, कैशलेस अर्थव्यवस्था बनाने की राह में एक बड़ा कदम है। लेकिन भारत के कुछ हिस्से आज भी बेहतर इन्टरनेट सुविधाओं से वंचित है और कहीं पर लोगों को इंटरनट का ज्ञान तो है लेकिन वे ठीक ढंग से इसका उपयोग नहीं कर पाते। उनके लिए किसी को ऑनलाइन भुगतान करना किसी रॉकेट साइंस जैसा है। इस समस्या से निजात पाने के लिए सरकार द्वारा युपीआई प्रणाली शुरू की गयी। आज हम आपको बताएंगे कि युपीआई आईडी (UPI ID) क्या होती है (UPI full form in hindi) इसका फुल फॉर्म हिंदी और अंग्रेजी में क्या है, यह कैसे बनती है व इसकी विशेषताएं क्या हैं।

UPI Full Form

UPI Full Form in English: अंग्रेजी में यूपीआई का फुल फॉर्म Unified Payments Interface (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) है।

UPI Full Form in Hindi: हिंदी में इसका मतलब होगा एकीकृत भुगतान इंटरफ़ेस।

युपीआई आईडी क्या होती है? (UPI full form in hindi)

UPI ID Kya Hoti Hai: यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस जिसे हिंदी में एकिकृत भुगतान इंटरफ़ेस कहा जाता है। यह ऐसा सिस्टम है जिसमे यूजर मोबाइल एप्लिकेशन में अपने बैंक खाते को लिंक करता है जिससे उसे एक विशिष्ट आईडी प्राप्त होती है, जिसे यूपीआई आईडी कहा जाता है। यूपीआई आईडी के कुछ उदहारण –

UPI को डॉ. रघुराम जी राजन, गवर्नर, आरबीआई द्वारा 11 अप्रैल 2016 को भारत में लांच किया गया था।

UPI ID कैसे बनती है?

UPI ID बनाने हेतु आपको निम्न स्टेप्स का पालन करना होता है। UPI ID बनाना एक बहुत ही आसान कार्य है।

  • इसके लिए आपको अपने बैंक अकाउंट को अपने मोबाइल से लिंक करवाना होता है।
  • उसके पश्चात् उस लिंक्ड मोबाइल नंबर को अपने स्मार्टफोन में डालकर अपने फ़ोन में UPI पेमेंट्स एप्प जैसे BHIM UPI (भीम यूपीआई), गूगल पे, फोनपे, पेटीएम आदि को इनस्टॉल करना है।
  • जब आप इन एप्प्स को इनस्टॉल करने के बाद ओपन करेंगे तब आपको रजिस्टर करने के लिए कहा जायेगा। आप अपने उस नंबर से रजिस्टर करें जिससे आपका बैंक खाता जुड़ा हुआ है।
  • रजिस्टर करने के बाद आपको पिन बनाने या कोई सिक्योरिटी लॉक लगाने के लिए कहा जायेगा। आप एक लॉगिन पिन बनाएं।
  • तत्पश्चात आप अपना बैंक खाता UPI एप्प में रजिस्टर करते हैं। इसके लिए एप्प में दी गयी बैंकों की लिस्ट से अपना बैंक सिलेक्ट करिये।
  • एप्प बैंक को एक सन्देश भेजेगी एवं आपके खातों को निकाल कर ले आएगी। अब यहां आपको अपना ATM कार्ड के लास्ट डिजिट्स और कुछ डिटेल्स एप्प में डालना है उसके पश्चात् एक UPI पिन जेनरेट करना होता है।

सावधानियां –

क्योंकि यह आईडी आपके बैंक खाते से सीधा जुड़ा होता है एवं कोई भी भूल आपके खाते को पूरा खाली कर सकती है अतः UPI ID बनाते समय निम्न सावधानियां अवश्य रखें।

  • UPI ID बनाने वाली एप्प को केवल मोबाइल के अधिकृत एप्प स्टोर जैसे एंड्राइड पर प्ले स्टोर या एप्पल पर एप्प स्टोर से ही डाउनलोड करें।
  • अपने डेबिट कार्ड/एटीएम कार्ड का डिटेल किसी के साथ साझा न करें।
  • अपने UPI पिन व मोबाइल के पासवर्ड को किसी के साथ साझा न करें।
  • यदि आपको यह ID बनाते नहीं आ रहा है तो घर के ही किसी होशियार सदस्य की सहायता लें एवं हो सके तो डेबिट कार्ड डिटेल आप ही डालें और UPI पिन भी आप ही क्रिएट करें।

UPI कैसे काम करता है?

जब आप किसी UPI एप्प पर रजिस्टर करते हैं तो आपको UPI ID के रूप में एक VPA यानि Virtual Payment Address (वर्चुअल पेमेंट एड्रेस) प्राप्त होता है। यह आपका एक यूनिक आईडी होता है। UPI से पैसा भेजने हेतु आपको प्राप्तकर्ता का UPI ID ज्ञात होना चाहिए। इसका UPI ID एवं भेजे जाने वाली राशि को दर्ज करके अपना UPI पिन डालकर आप उसे पेमेंट कर सकते हैं। यह UPI पिन ही वह गोपनीय कोड है जो यदि किसी को ज्ञात हो जाये और आपका फ़ोन उसके पास हो तो वह आपके अकाउंट से पैसा निकाल सकता है।

UPI पिन क्या होता है?

UPI पिन एक प्रकार का सीक्रेट कोड है। जिसे दर्ज कर एक खाते से पैसा दूसरे खाते में ट्रांसफर किया जा सकता है। यह 4 अथवा 6 डिजिट का होता है।

कैसे अलग है अन्य भुगतान प्रणालियों से –

UPI आईडी की यह विशेषताएं इसे अन्य भुगतान यानी पेमेंट प्रणालियों से भिन्न बनाती हैं।

  • इसके माध्यम से 24*7 मोबाइल द्वारा भुगतान और धन हस्तांतरण की सुविधा देता है।
  • विभिन्न बैंक खातों तक पहुँचने के लिए एकल मोबाइल एप्लिकेशन।
  • यूजर कभी भी कहीं भी अपने बैंक खाते की जानकारी पा सकता है।
  • ग्राहक को खाता संख्या और आईएफएससी कोड के बिना सिर्फ मोबाइल नंबर अथवा युपीआई आयडी से भुगतान किया जा सकता है।
  • क्यूआर कोड स्कैन कर सीधे भुगतान की सुविधा उपलब्ध है।
  • ऑनलाइन भुगतान एवं कैश ऑन डिलीवरी के लिए सीधा बैंक खाते से भुगतान, आपको एटीएम तक जाने की आवश्यकता नहीं है।
  • मोबाइल द्वारा बिल भुगतान, दुकानों पर खरीददारी का भुगतान एवं अन्य स्थानों पर स्कैन आधारित भुगतान।
  • किसी भी समस्या का मोबाइल पर समाधान।

FAQs

मेरा यूपीआई नंबर क्या है?

आप अपना यूपीआई नंबर या ID अपने UPI एप्प पर चेक कर सकते हैं। यदि आप गूगल पे या फोनपे अथवा भीम एप्प के उपभोक्ता हैं तो प्रोफाइल के आइकॉन पर टच करके UPI आईडी निकाल सकते हैं।

आज के इस पोस्ट में आपने जाना कि युपीआई आईडी क्या होती है? यह कैसे बनती है एवं कैसे काम करती है व साथ ही इसकी विशेषताएं भी। ऐसे ही नए नए सवालों के जवाब जानने हेतु जुड़े रहिये ज्ञानग्रंथ से।

कुछ और महत्वपूर्ण लेख –

0Shares

Leave a Comment